कैबिनेट ने जम्मू कश्मीर में 850 मेगावाट के रेटले पावर प्रोजेक्ट को मंजूरी दी

केंद्रीय कैबिनेट ने 20 जनवरी 2021 को जम्मू कश्मीर में 850 मेगावाट के रेटले पावर प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी है. इस पावर प्रोजेक्ट को अगले पांच सालों में कमीशन किया जाएगा. जम्मू कश्मीर में प्रदेश के एलजी मनोज सिन्हा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट ने जम्मू कश्मीर में 850 मेगावाट के रेटले पावर प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी है.

यह जम्मू कश्मीर को बिजली क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए यह बड़ा कदम है. 850 मेगावाट की इस परियोजना पर 5281.94 करोड़ रुपये का निवेश होगा. इसे नेशनल हाइड्रो पावर कारपोरेशन (एनएचपीसी) और जम्मू कश्मीर स्टेट पावर डेवलपमेंट कारपोरेशन (जेकेपीडीसी) की तरफ से संयुक्त रूप से बनाया जा रहा है. इसमें एनएचपीसी की 51 प्रतिशत और जेकेपीडीसी की 49 प्रतिशत हिस्सेदारी है.

यह जम्मू कश्मीर को बिजली क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए यह बड़ा कदम है. 850 मेगावाट की इस परियोजना पर 5281.94 करोड़ रुपये का निवेश होगा. 

केंद्रीय कैबिनेट ने 20 जनवरी 2021 को जम्मू कश्मीर में 850 मेगावाट के रेटले पावर प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी है. इस पावर प्रोजेक्ट को अगले पांच सालों में कमीशन किया जाएगा. जम्मू कश्मीर में प्रदेश के एलजी मनोज सिन्हा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट ने जम्मू कश्मीर में 850 मेगावाट के रेटले पावर प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी है.

यह जम्मू कश्मीर को बिजली क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए यह बड़ा कदम है. 850 मेगावाट की इस परियोजना पर 5281.94 करोड़ रुपये का निवेश होगा. इसे नेशनल हाइड्रो पावर कारपोरेशन (एनएचपीसी) और जम्मू कश्मीर स्टेट पावर डेवलपमेंट कारपोरेशन (जेकेपीडीसी) की तरफ से संयुक्त रूप से बनाया जा रहा है. इसमें एनएचपीसी की 51 प्रतिशत और जेकेपीडीसी की 49 प्रतिशत हिस्सेदारी है.

परियोजना पांच साल में बनकर तैयार

केंद्र सरकार जेकेपीडीसी की हिस्सेदारी के 776.44 करोड़ रुपये का सहयोग भी देगी. यह महत्वपूर्ण परियोजना पांच साल में बनकर तैयार हो जाएगी.

जम्मू कश्मीर के 4000 लोगों को रोजगार

उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि परियोजना के बन जाने से जम्मू कश्मीर में बिजली की सप्लाई को सुचारू बनाने में मदद मिलेगी. सीधे और अप्रत्यक्ष रूप से जम्मू कश्मीर के चार हजार लोगों को रोजगार मिलेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *