अंडमान और निकोबार द्वीप समूह कोरोना से मुक्त होने वाला पहला केंद्र शासित प्रदेश

हाल ही में अंडमान निकोबार द्वीप समूह में कोविड मरीजों की संख्‍या शून्‍य होने के साथ ही देश का पहला कोरोना मुफ्त केन्‍द्र शासित प्रदेश बन गया है. स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की वेबसाइट में बताया गया है कि द्वीप समूह में चारों रोगी ठीक हो गये हैं. यह परिणाम कडी सतर्कता और निगरानी के कारण आया है.

केन्‍द्र शासित प्रदेश में संक्रमण के कुल चार हजार नौ सौ 32 मामलें आये थे. इसमें से 62 लोगों की मौत हो गई थी. अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह में पिछले छह दिन में कोविड-19 (Corona in Andaman Nicobar) का एक भी नया मामला सामने नहीं आया है. यह जानकारी स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने 01 फरवरी 2021 को दी.

वहीं पिछले 24 घंटे में संक्रमण से किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई है और मृतकों की संख्या 62 बनी हुई है. हालांकि प्रोटोकॉल के अनुसार कोविड जांच जारी रहेगी. द्वीप समूह के मुख्‍य सचिव चेतन बी. संघी ने अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं की प्रशंसा की है और लोगों से निरन्‍तर सहयोग देने की अपील की है.

संक्रमण का पहला मामला

यह द्वीप समूह अपनी प्राकृतिक संदुरता के लिए मशहूर है और संक्रमण का पहला मामला यहां 10 जून 2020 को सामने आया. वहीं 27 जुलाई को एक मरीज की मौत हो गई, जो संक्रमण से मौत का यहां का पहला मामला था.

पर्यटन उद्योग खासा प्रभावित हुआ

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोलकाता या चेन्नई से विमान या जहाज के जरिए यहां पहुंचने वाले किसी भी व्यक्ति को संक्रमण मुक्त होने की पुष्टि करने वाली रिपोर्ट दिखाने के बाद ही प्रवेश मिलता है. कोविड-19 की वजह से यहां का पर्यटन उद्योग खासा प्रभावित हुआ लेकिन अब बड़ी संख्या में पर्यटक यहां आ रहे हैं और सभी मुख्य पर्यटन स्थल पर्यटकों के लिए खोल दिए गए हैं.

सात दिनों से संक्रमण का कोई मामला नहीं

द्वीप समूह में पिछले सात दिनों से संक्रमण का कोई मामला नहीं आया है. संक्रमण की दर दो दशमलव दो-दो प्रतिशत है और जांच दर पांच लाख 62 हजार 130 प्रति दस लाख है. अब तक दो लाख 24 हजार नमूने जांच के लिए भेजे जा चुके हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *